खुशखबरी : रेलवे के इस फैसले से अब वेटिंग टिकट वाले को भी मिलेगी कन्फर्म सीट, जानें कैसे

जिस ट्रेन में वेटिंग अधिक होगी अब उस मूल ट्रेन की क्लोन ट्रेन चलाई जाएगी जिससे वेटिंग टिकट वाले को कन्फर्म सीट मिल सके।

रेलवे अब वेटिंग टिकट की झंझट को खत्म करने जा रही है। भारतीय रेलवे ने क्लोन ट्रेनें चलाने का फैसला किया है जिससे यात्रियों को कन्फर्म सीट मिल सके और यात्रा आरामदायक हो। इस फैसले से वेटिंग टिकट वाले को भी कन्फर्म सीट दी जाएगी। आपको बता दे कि 12 सिंतबर से 80 नई स्पेशल ट्रेनों के साथ क्लोन ट्रेनों का भी परिचालन होगा। रेलवे बोर्ड के चेयरमैन वी के यादव के अनुसार वर्तमान में चल रही सभी ट्रेनों की निगरानी रेलवे द्वारा की जाएगी और पता लगाया जाएगा कि किन ट्रेनों में प्रतीक्षा सूची लंबी है। जिन ट्रेनों में एक डेढ़ महीने से वेटिंग होगी उस ट्रेन की क्लोन ट्रेन चलाई जाएगी। फिलहाल उत्तरप्रदेश और बिहार रूट के 3 ट्रेनों में वेटिंग लिस्ट बहुत ज्यादा है। रेलवे ने कहा है कि मांग के अनुसार इन रूटों पर क्लोन ट्रेन चलाई जाएगी।

क्या है क्लोन ट्रेन और कैसे वेटिंग वालों को मिलेगी कन्फर्म सीट- जानें

क्लोन ट्रेन मुख्यरूप से मूल ट्रेन की कॉपी होगी। जिस ट्रेन में एक डेढ़ महीने से वेटिंग है तो मूल ट्रेन जैसी एक और ट्रेन की व्यवस्था की जाएगी जिसमें वेटिंग टिकट वाले को कन्फर्म सीट दी जाएगी। क्लोन ट्रेन का नंबर भी मूल ट्रेन के समान होगा। यह ट्रेन मूल ट्रेन से एक घंटा बाद चलेगी। ये ट्रेनें उसी रूट से जाएगी और उसी स्टेशन पे रुकेगी जो मूल ट्रेन की निर्धारित की गई है। उदाहरण के लिए, मान लीजिए दिल्ली से मुज़फ्फरपुर के लिए चलने वाली सप्तक्रांति एक्सप्रेस में बहुत वेटिंग है तो रेलवे सप्तक्रांति जैसी एक और ट्रेन की व्यवस्था करेगी जिसका नाम और नंबर एक समान होगा और मूल सप्तक्रांति के जाने के एक घंटे बाद खुलेगी। इस ट्रेन में सप्तक्रांति के वोटिंग टिकट वाले यात्रा करेंगे और सबको कन्फर्म सीट दी जाएगी। रेलवे के इस योजना से वेटिंग टिकट वाले यात्री बिना किसी परेशानी के अपने गंतव्य स्टेशन तक करीब-करीब उसी समय पर पहुंच पाएंगे। रेलवे क्लोन ट्रेनें ज्यादा मांग वाली रूट पर वेटिंग लिस्ट के आधार पर चलाएगी।

Post a Comment

0 Comments