लगातार हो रही मूसलाधार बारिश से धौंस नदी के जलस्तर में वृद्धि

चार दिन पहले तक नदी का जलस्तर महज दो से ढाई मीटर गहराई था

सोमवार को पानी से लबालब हुआ दोनों किनारा

नेपाल से पानी आने पर बाढ़ आना तय

बाढ़ आगमन की प्रबल संभावना देखकर बढ़ी लोगों की चिंता


बेनीपट्टी : अनुमंडल के मधवापुर प्रखंड क्षेत्र से होकर बेनीपट्टी के कई इलाके होते हुए दरभंगा तक बहनेवाली अधवारा समूह की सहायक नदी धौंस के जलस्तर में पिछले चार दिनों से लगातार वृद्धि जारी है. चार दिन पहले तक नदी का जलस्तर महज दो से ढाई मीटर गहरा था, जो अब सोमवार को नदी का दोनों किनारा पानी से लबालब भर चुका है. नदी के बढ़ते जलस्तर और मूसलाधार बारिश से अनुमंडल प्रक्षेत्र के लोगों में बाढ़ आगमन की सभावना बढ़ने लगी है, जिनसे नदी किनारे के आस-पास में बसे दर्जनों गांवों के लोग सहमे नजर आने लगे हैं.


लोगों को अब यह चिंता सताने लगी है कि नेपाल के तराई क्षेत्रों में हुई भारी बारिश से धौंस नदी का जल स्तर में और इजाफा होना और अन्य नदियों का भी जलस्तर बढ़ना स्वाभाविक है. ऐसे ही मूसलाधार बारिश होती रही तो बाढ़ का आना तय है और इस बार जिस तरह की बांधों की जर्जर स्थिति है उसके अनुसार बाढ़ आयी तो अनुमंडल क्षेत्र में फिर भारी तबाही मच सकती है. बता दें कि बांधों की मरम्मती की गयी है लेकिन केवल उन जगहों पर जहां पिछले बार आयी बाढ़ में ध्वस्त हो गया था. बांधों और नदियों के तटबंधों का शेष भाग जैसे के तैसे हैं, जहां रैनकटों और चूहे के सुराग और दरारें खतरे को दावत देती प्रतीत हो रही है. कई लोगों ने कहा कि नेपाल से भी पानी छोड़े जाने पर क्षेत्र में बाढ़ आने की सभांवना से इनकार नही किया जा सकता. वैसे भी पिछले तीन सालों से जुलाई और अगस्त महीने के मध्य में अनुमंडल के सभी प्रखंड बाढ़ की विभीषिका का सामना करता रहा है और जान माल की क्षति भी झेलनी पड़ी है.

इस बार समय से मानसून आगमन के साथ ही प्री मानसून से ही जमकर हो रही बारिश से बाढ़ आने की संभावना को प्रबल बना रहा है. लिहाजा लोग इस बार पहले से ही बाढ़ को लेकर सभी एहतियातन उपाय करने में लग चुके हैं. सर्वाधिक बाढ़ प्रभावित जोन के लोग रोजमर्रा के सामान भंडारण करने और ऊंचे आश्रय स्थल की तलाश सहित सभी आवश्यक तैयारियों में जुट चुके है. हालांकि इस बाबत एसडीएम मुकेश रंजन ने कहा कि नदियों क़े जलस्तर पर नजर रखी जा रही है. बाढ़ से निबटने के लिये प्रशासन सतर्क और सजग है.

Post a Comment

0 Comments